15 august 2018 in hindi

स्वतंत्रता दिवस - 15 अगस्त 2018

स्वतंत्रता दिवस - 15 अगस्त 2018

स्वतंत्रता दिवस - 15 अगस्त 2018

हर वर्ष भारत में 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस भारतीय त्योहारों के रुप में मनाया जाता है प्रत्येक भारतीय के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण और खुशहाली का दिन होता है ब्रिटिश शासन से बहुत साल गुलामी करने के बाद 15 अगस्त 1947 को हमारे भारत को आजादी मिली थी इसलिए आने वाले हर 15 अगस्त को स्वतंत्रता के रूप में इस दिन को धूमधाम से मनाया जाता है इस दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु ने दिल्ली में लाल किले पर हमारे भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा को हराया था यह फहरता हुआ तिरंगा यह साबित करती है कि गुलामी की जंजीरों से स्वतंत्र होकर आजादी की सांस ले रहे हैं आने वाला 15 अगस्त 2018 बुधवार को पूरे भारत में स्वतंत्रता दिवस के रुप में मनाया जाएगा सन 2018 में भारत का यह 72 वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जाएगा इससे पहले भारत में सबसे पहला स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त 1947 को मनाया गया था |

इन जगहों पर मनाया जाता है धूमधाम से स्वतंत्रता दिवस

15 अगस्त के दिन पूरे भारत में सभी जगह जैसे बैंक ,व्यापार,कार्यालय,बाजार, दुकानें,पोस्ट ऑफिस,  सब्जी मंडियों, स्कूलों और कॉलेजों, सरकारी दफ्तरों, इनके अलावा बहुत से स्थानों पर खुशियाली के साथ झंडे को फहराकर इस त्यौहार को मनाया जाता है तथा हर जगह खुशियाली के माहौल में नाच - गाना और नृत्य भी किया जाता है और इनके अलावा कार्यक्रम के दौरान उपस्थित सभी लोगों को जलपान भी कराया जाता है 15 अगस्त के दिन पूरे भारत में राष्ट्रीय अवकाश के रूप में स्वतंत्रता दिवस को त्यौहार के रूप में मनाया जाता है |

स्वतंत्रता दिवस को होती है कड़ी सुरक्षा

15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाने के दौरान सभी जगह खासतौर पर जम्मु-कश्मीर,मुम्बई,दिल्ली जैसे बड़े शहरों और रेलवे स्टेशनों,हवाई अड्डा तथा बड़े स्कूल-कॉलेजों में आतंकवादी हवाई हमलों का बहुत बड़ा खतरे का डर रहता है इसलिए इन हमलों से बचने के लिए दिल्ली में लाल किले के आसपास नो फ्लाई जोन घोषित कर दिया जाता है और इस दिन TV के माध्यम से पूरे देश में इस कार्यक्रम का लाइव टेलीकास्ट किया जाता है और पूरे शहर में सुरक्षा को लेकर बहुत कड़ी देख-रेख जाती है तथा हर छोटे-बड़े बाजारों में पुलिस बल की तैनाती की जाती है |

भारतीय तिरंगे के तीन रंग का मतलब
भारतीय तिरंगे के तीन रंग का मतलब
भारतीय तिरंगे के तीन रंग का मतलब
भारतीय ध्वज तीन रंग केसरिया रंग,सफेद रंग,हरा रंग से बनने के कारण इसे तिरंगा कहा जाता है हर देश का अपना एक झण्डा होता है राष्ट्र का ध्वज यह दर्शाता है कि वह देश स्वतंत्र है किसी का गुलाम नहीं वह देश स्वतंत्र है |
1 - भारतीय तिरंगे में सबसे पहले केसरिया रंग आता है यह रंग हमारे राष्ट्र के प्रति हिम्मत को दर्शाता है जो बलिदान का प्रतीक है यह रंग लोगों में एकता का भी प्रतीक कहलाता है और यह केसरिया रंग मुक्ति और त्याग का भी संदेश प्राप्त करता है |
2 - हमारे भारतीय तिरंगे के बीच में सफेद रंग आता है जो जो शांति ईमानदारी और अच्छाई का प्रतीक माना जाता है और सफेद रंग का चिन्ह स्वच्छता को भी दर्शाता है |
3 - तिरंगे झंडे के सबसे नीचे हरा रंग आता है जो यह दर्शाता है कि हमें विश्वास तथा खुशहाली और प्रगति की राह पर चलना चाहिए हरा रंग हमारे पूरे भारत में हरियाली को दर्शाता है और जीवन की खुशियों को और खुशहाल बनाता है |








Previous
Next Post »