जामुन jamun fruit ke benefits health

जामुन खाने के जबरदस्त फायदे
जामुन खाने के जबरदस्त फायदे
जामुन खाने के जबरदस्त फायदे
सभी फलों में जामुन भी रोगों से लड़ने के लिए शामिल है जामुन एक मौसमी फल है यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट आता है और जुलाई के महीने में आम के साथ-साथ क्या मुझे काले रंग के रूप में बाजार में दिखाई देने लगता है जामा गर्मियों के मौसम ही पाया जाता है जामुन के फल में गर्मियों को सहन करने की क्षमता बहुत अधिक होती है इसलिए जामुन हमें लू से बचाता है जामुन में भरपूर मात्रा में फ्रुक्टोज और ग्लूकोज पाया जाता है जामुन का स्वाद हल्का खट्टापन और अम्लीय होने के कारण रक्त से संबंधित रोगों को दूर करता है |

जामुन के औषधीय गुण और फायदे

1 - दातों तथा मसूड़ों से जुड़ी हुई बहुत से रोगों से निजात पाने के लिए विशेषतौर पर जामुन बहुत फायदेमंद है जामुन को सीधे खाने से जामुन का खट्टापन स्वाद तथा खाने के बाद इसको पीस लेने के बाद इसके पाउडर को मंजन करने से दांत और मसूड़े स्वस्थ रहते हैं तथा दांत का दर्द भी ठीक हो जाता है |
2 - जामुन के फल का लगातार सेवन करने से हृदय रोग से संबंधित रोगों का भी इलाज होता है जामुन का खटारा हमारे शरीर के अनेक भागों में जाकर बहुत तरह से फायदा पहुंचाता है |
3 - हमारे पेट में जोड़ी बहुत ही समस्या जैसे गैस बनाना, खाना न पचना, पेट में दर्द पाचन क्रिया के लिए जामुन बहुत फायदेमंद होता है जामुन एक ही सीजन में मिलने के कारणजामुन का सीजन आने पर रोज जामुन खाना चाहिए |
4 - जामुन के बीज को पीसकर पाउडर बनाकर 2 से 5 ग्राम पाउडर रोज सेवन करने से मधुमेह रोग का जड़ से खात्मा हो जाता है सभी फलों में जामुन मात्र एक ऐसा फल है जो शुगर से ग्रसित रोगी बिना किसी टेंशन के आसानी से खा सकता है जामुन का सेवन हमारे शरीर में हमारे खून में शक्कर की मात्रा को नियंत्रित करता रहता है इसलिए लगातार जामुन का सेवन करने से मधुमेह रोगों से ग्रसित रोगियों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है |
5 - चेहरे पर दाग धब्बे, मुंहासे से निजात पाने के लिए जामुन लाभदायक होता है चेहरे पर दाग धब्बे वाले स्थान पर जामुन के रस का पेस्ट बनाकर लगाने से धीरे-धीरे दाग हल्के पड़ने लगते हैं और फिर कुछ दिनों बाद हमेशा के लिए हट जाते हैं |
6 - सेंधा नमक के साथ जामुन को मिलाकर खाने से भी बहुत फायदा होता है खून का दस्त होने पर जामुन के बीज का सेवन बहुत फायदेमंद होता है इसलिए जामुन खाने के बाद जामुन के बीज को सुखा कर रख लेना चाहिए क्योंकि जामुन हमेशा मिलने वाला फल नहीं है |
7 - शरीर पर फोड़ा, फुंसी तथा घाव लगने पर जामुन के बीज को पानी में पीसकर दिन में तीन बार सुबह शाम दो बार लगाने से घाव तथा फोड़े-फुंसियां ठीक हो जाती है |
8 - प्रतिदिन सुबह और शाम जामुन के रास का सेवन करने हमारे शरीर में लीवर की समस्या खत्म हो जाती है |
9 - जामुन के पेड़ की छाल को अच्छी तरह पानी में उबालकर बचे हुए घोल को बोतल में रख लें तथा इस घोल को जोड़ोके दर्द तथा गठिया के दर्द जैसे जगहों पर लगाने से बहुत जल्दी आराम मिल जाता है |
Previous
Next Post »