किसानो के फसल हो रहे है बरबाद

सभी किसानो की यह एक बहुत बड़ी समस्या है जिससे की सभी किसान बहुत परेशांन है और इस परेशानी का कोई हल भी नहीं है यदि है भी तो किसान के लिए बहोत कठिन है | 


गांवों में नील गायों का आतंक इतना बढ़ गया है की बहुत मेहनत से उगाई गई फसल जो की किसान दिन-रात एक करके फसल उगते है नील गाय एक रात में किसानो की पूरी फसल को बर्बाद कर दे रहे है किसान आखिर कितना भी निगरानी करे लेकिन इनका आतंक इतना बढ़ गया है की सभी किसान लोग बहुत परेशां है | 

किसानो के फसल हो रहे है बरबाद
किसानो के फसल हो रहे है बरबाद

किसान तो बस इतना कर सकते है की अपने खेत के चारो और तार घेर सकते है लेकिन उससे भी निल गायों को कोई फर्क नहीं पड़ता और फिर एक दिन या एक सप्ताह की बात तो है  नहीं की पूरी रात जागकर इनकी निगरानी किया जा सके | 


नील गाय को रोकने के लिए बहुत सी रासायनिक दवा भी मार्किट में उपलब्ध है लेकिन वो रासायनिक दवाएं भी कोई काम नहीं कर रही है अगर कोई किसान इनकी देखभाल के लिए तार या रासायनिक दवा का प्रबंध करता है तो बहुत महंगा साबित हो रहा है और तो और यदि छोटे किसान है तो कर नहीं सकते एयर बड़े किसान है तो उनके लिए बहुत महगा है आखिर किसान करे तो क्या करे | 

किसानो के फसल हो रहे है बरबाद
किसानो के फसल हो रहे है बरबाद

निल गाय से सभी किसान परेशांन तो थे ही की अब गाय और बैल भी किसानों के लिए संकट बनकर आ गए नील गाय तो कुछ रहम करते थे लेकिन गाय और बैल तो कुछ भी नहीं छोड़ते है है ये जिस भी खेत में पहुंचते है पूरा खेत ही साफ़ कर देते है क्योकि गाय और बैल सदियों से यहीं सब खाकर पले और बढे हैं  इसलिए ये जिस भी खेत में जाते हैं किसान का कल्याण ही कर देते हैं |

इन लोगों का किसानों के खेत में आतंक इतना बढ़ गया है की किसान अपना कोई भी फसल पूरी उपज के साथ पैदा नहीं कर पा रहे हैं और किसान भाई लोग कुछ कर भी तो नहीं सकते इस वजह से किसान सब्जियों की खेती करने से बहुत परेशां हैं | 




Previous
Next Post »